Ayushman Aapke Dwar

NHA (National Health Authority) ने 1 मार्च 2021 को Ayushman Bharat PM-JAY लागू करने वाले 33 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों में Ayushman Aapke Dwar 3.0 अभियान शुरू किया। इसका उद्देश्य आयुष्मान कार्ड निर्माण में तेजी लाना था। आयुष्मान कार्ड का निर्माण योजना के क्रियान्वयन से सीधे तौर पर जुड़ा हुआ है। NHA ने सभी पात्र लाभार्थियों के लिए आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराने के लिए कई पहल कीं। इस अभियान के तहत, NHA ने CSC, UTIITSL और चार निजी एजेंसियों सहित विभिन्न कार्ड निर्माण एजेंसियों को शामिल किया।

Ayushman Aapke Dwar 1.0 और 2.0 के अनुभव से सीख

Ayushman Aapke Dwar 1.0 के अनुभव से सीख लेते हुए, 1 अगस्त 2022 से ‘आयुष्मान – आपके द्वार 2.0’ को फिर से लॉन्च किया गया, जिसमें एक नया IT प्लेटफॉर्म, मोबाइल ऐप-आधारित कार्ड निर्माण, और घर-घर अभियान के लिए FLWs (Frontline Workers) की भागीदारी शामिल थी। इसके परिणामस्वरूप वित्त वर्ष 2022-23 में 10 करोड़ से अधिक आयुष्मान कार्ड बनाए गए।

Ayushman Aapke Dwar 3.0: शहरी क्षेत्रों में चुनौतियों का समाधान

हालांकि, यह पाया गया कि अधिकांश आयुष्मान कार्ड ग्रामीण क्षेत्रों में बनाए गए थे। शहरी क्षेत्रों में, उच्च प्रवास, व्यापक लाभार्थी आबादी और दिन के समय लाभार्थियों की अनुपलब्धता के कारण कार्ड निर्माण अधिक चुनौतीपूर्ण है। इन चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए, भारत सरकार ने 17 सितंबर 2023 से आयुष्मान आपके द्वार 3.0 लॉन्च करने का निर्णय लिया है, जिसमें लाभार्थियों के लिए स्व-पंजीकरण सुविधा को सक्षम किया जा रहा है।

स्व-पंजीकरण और FLWs/FPS की भागीदारी

Ayushman Aapke Dwar 3.0 के तहत स्व-पंजीकरण मोड OTP, IRIS और फिंगरप्रिंट के साथ फेस-ऑथ आधारित प्रमाणीकरण की नवीनतम तकनीक से लैस होगा। यह सुनिश्चित करेगा कि कार्ड निर्माण के लिए किसी भी मोबाइल डिवाइस का उपयोग किया जा सके। इसके अलावा, अधिकांश राज्यों ने राशन कार्ड डेटा का उपयोग करना शुरू कर दिया है। इसलिए, Ayushman Aapke Dwar 3.0 में, आयुष्मान कार्ड निर्माण के लिए अन्य FLWs के साथ-साथ उचित मूल्य की दुकानों (FPS) को भी शामिल किया जाएगा।

Ayushman Aapke Dwar 3.0 के उद्देश्य

  • व्यक्तिगत स्तर पर आयुष्मान कार्ड की संतृप्ति प्राप्त करना।
  • आयुष्मान कार्ड की छपाई और FLWs को वितरण के लिए आगे बढ़ाना।
  • सभी राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों में आयुष्मान कार्ड वितरण अभियान शुरू करना।
Ayushman Aapke Dwar 3.0
Ayushman Aapke Dwar 3.0

Ayushman Aapke Dwar 3.0 के तहत गतिविधियाँ

  • कार्ड निर्माण स्व-पंजीकरण का उपयोग करना:
    • Ayushman Aapke Dwar 3.0 के लिए, एक नया IT प्लेटफॉर्म बनाया गया है जिसमें स्व-पंजीकरण की सुविधा है, जहां पात्र लाभार्थी स्वयं और अपने परिवार के सदस्यों के लिए आयुष्मान कार्ड बना और डाउनलोड कर सकते हैं।
    • विभिन्न प्लेटफार्मों के माध्यम से इसे लोकप्रिय बनाने के लिए ट्यूटोरियल वीडियो।
    • कार्ड निर्माण के लिए चरणबद्ध प्रक्रिया को उजागर करने वाले पत्रक।
  • FLWs और FPS का उपयोग करके कार्ड निर्माण:
    • आयुष्मान आरोग्य मंदिर और गाँव के भीतर अन्य प्रमुख स्थानों पर लाभार्थियों के नाम की सूची प्रदर्शित करना।
    • राज्य के माध्यम से स्थानीय संसाधनों (FLWs, स्वयंसेवकों, सामाजिक कार्यकर्ताओं सहित) की भागीदारी।
    • कार्ड निर्माण के लिए उचित मूल्य की दुकानों (FPSs) को शामिल करना।
    • कार्ड छपाई और वितरण के लिए जिला/ब्लॉक स्तर तक एजेंसियों को शामिल करना।

Ayushman Aapke Dwar3.0 के लाभ:

  • लाभार्थियों के लिए आसान पहुंच: स्व-पंजीकरण और FPS की भागीदारी से लाभार्थियों के लिए आयुष्मान कार्ड प्राप्त करना आसान हो जाएगा।
  • तेज कार्ड निर्माण: Ayushman Aapke Dwar 3.0 के तहत कार्ड निर्माण प्रक्रिया में तेजी आएगी, जिससे अधिक लाभार्थियों को इसका लाभ मिल सकेगा।
  • बेहतर निगरानी: Ayushman Aapke Dwar 3.0 में एक मजबूत निगरानी प्रणाली होगी, जिससे कार्ड निर्माण प्रक्रिया की प्रभावशीलता में सुधार होगा।

आयुष्मान आपके द्वार 3.0: एक महत्वपूर्ण कदम

आयुष्मान आपके द्वार 3.0 आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (AB PM-JAY) के कार्यान्वयन की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। यह योजना के तहत सभी पात्र लाभार्थियों तक पहुंच सुनिश्चित करने में मदद करेगा।

संबंधित पक्ष:

  • पात्र लाभार्थी: वे व्यक्ति या परिवार जो आयुष्मान भारत योजना के तहत निर्धारित पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं।
  • जनप्रतिनिधि: स्थानीय स्तर पर लाभार्थियों को जागरूक करने और योजना के लाभों के बारे में बताने में मदद करते हैं।
  • कार्ड निर्माण एजेंसियां: आयुष्मान कार्ड बनाने की प्रक्रिया को सुगम और तेज बनाने के लिए जिम्मेदार होती हैं।
  • FLWs (आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, पंचायती राज संस्थाएं): लाभार्थियों की पहचान, ई-केवाईसी और कार्ड वितरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
  • SHA (राज्य स्वास्थ्य एजेंसी) और जिला प्रशासन: योजना के कार्यान्वयन, निगरानी और मूल्यांकन के लिए जिम्मेदार होते हैं।

वित्तीय पहलू:

आयुष्मान आपके द्वार 3.0 के तहत आयुष्मान कार्ड निर्माण पूरी तरह से राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (NHA) द्वारा वित्त पोषित किया जाएगा। यदि FLWs द्वारा e-KYC किया जाता है, तो NHA प्रत्येक सफल e-KYC के लिए 5 रुपये का भुगतान करेगा। इसके अलावा, FLWs को प्रत्येक आयुष्मान कार्ड लाभार्थी तक पहुंचाने के लिए 3 रुपये का भुगतान किया जाएगा।

कुछ राज्यों में, FLWs को e-KYC के लिए भुगतान प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (DBT) के माध्यम से किया जा रहा है। राज्यों की सुविधा के आधार पर, FLWs को DBT भुगतान मोड के माध्यम से धनराशि जारी की जा सकती है।

निष्कर्ष:

आयुष्मान आपके द्वार 3.0, भारत सरकार की आयुष्मान भारत योजना के तहत सभी पात्र लाभार्थियों तक पहुंचने और उन्हें स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ प्रदान करने के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है। यह अभियान आयुष्मान कार्ड निर्माण प्रक्रिया को सरल और सुलभ बनाकर, अधिक से अधिक लोगों को इस योजना के दायरे में लाने का प्रयास करता है।

FAQ’s (अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न)

आयुष्मान कार्ड क्या है और इसका क्या महत्व है?

आयुष्मान कार्ड आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (AB PM-JAY) के तहत एक महत्वपूर्ण पहचान पत्र है। यह कार्ड धारकों को योजना के तहत सूचीबद्ध अस्पतालों में मुफ्त इलाज की सुविधा प्रदान करता है।

आयुष्मान कार्ड के लिए कौन पात्र है?

आयुष्मान कार्ड के लिए पात्रता सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना (SECC) 2011 के आंकड़ों के आधार पर निर्धारित की जाती है। SECC डेटा में शामिल गरीब और कमजोर परिवार इस योजना के लिए पात्र हैं।

मैं अपना आयुष्मान कार्ड कैसे प्राप्त कर सकता हूँ?

आयुष्मान कार्ड प्राप्त करने के लिए, आप नजदीकी आयुष्मान भारत केंद्र पर जा सकते हैं या ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। AAD 3.0 के तहत, आप स्वयं भी अपना आयुष्मान कार्ड बना सकते हैं।

Ayushman Aapke Dwar 3.0 के तहत स्व-पंजीकरण कैसे किया जाता है?

Ayushman Aapke Dwar 3.0 के तहत, आप NHA के IT प्लेटफॉर्म पर लॉग इन करके अपना आयुष्मान कार्ड बना सकते हैं। आपको अपना आधार नंबर और अन्य विवरण प्रदान करने होंगे। फेस-ऑथ, OTP, IRIS, या फिंगरप्रिंट के माध्यम से आपकी पहचान सत्यापित की जाएगी।

क्या Ayushman Aapke Dwar 3.0 के तहत आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए कोई शुल्क है?

नहीं, Ayushman Aapke Dwar 3.0 के तहत आयुष्मान कार्ड बनाना पूरी तरह से मुफ्त है।

अगर मेरा आयुष्मान कार्ड खो जाए तो क्या होगा?

यदि आपका आयुष्मान कार्ड खो जाता है, तो आप नजदीकी आयुष्मान भारत केंद्र पर जाकर या ऑनलाइन आवेदन करके एक डुप्लीकेट कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।

आयुष्मान आपके द्वार 3.0

आयुष्मान आपके द्वार 3.0 आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (AB PM-JAY) को और अधिक सुलभ और प्रभावी बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। यह सुनिश्चित करने के लिए एक समग्र प्रयास है कि सभी पात्र लाभार्थियों के पास आयुष्मान कार्ड हो और वे इस योजना का लाभ उठा सकें।

आशा है कि यह लेख आपको आयुष्मान आपके द्वार 3.0 के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करने में सहायक रहा होगा। यदि आपके कोई और प्रश्न हैं, तो कृपया बेझिझक पूछें।

महत्वपूर्ण लेख
आवेदन करेंयोग्यता चेक करें
होस्पिटल लिस्ट देखेंबैलेंस चेक करें
लॉग इन करेंUMANG पोर्टल से सर्विसेज पाएं
आयुष्मान कार्ड लिस्ट देखेंDigilocker से कार्ड डाउनलोड करें
स्टेटस चेक करेंAyushman – Apke Dwar 3.0
आयुष्मान कार्ड के लाभहेल्पलाइन नंबर
Ayushman card

Leave a Comment